ढ़लती उम्र में भी जवां दिखना है तो आजमाएं ये 5 सीक्रेट टिप्‍स

जैसे-जैसे व्‍यक्ति की उम्र ढ़लती है वैसे-वैसे उसकी बॉडी कमजोर होने लगती है साथ ही चेहरे की सुंदरता और चमक भी फीकी पड़ने लगती है। इससे कहीं न कहीं आत्‍मविश्‍वास भी प्रभावित होता है। वैसे तो अपनी उम्र से कम दिखना हर किसी की चाहत होती है। इसके लिए तरह-तरह के प्रयास भी किए जाते हैं, लेकिन इसका सही परिणाम नही मिल पाता है। तो चलिए आज हम आपको ऐसी 5 सीक्रेट टिप्‍स के बारे में बता रहे हैं जिससे आप ढ़लती उम्र में भी जवां दिखेंगी।

age

अपनी स्किन को समझें

विशेषज्ञों की मानें तो स्किन पर कोई भी कॉस्‍मेटिक प्रोडक्‍ट लगाने से पहले उस का प्रकार जानना जरूरी है, क्योंकि त्वचा के अुनरूप मेकअप उत्पाद का चुनाव करने पर ही सही लुक मिलता है। इसलिए सही ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट का चुनाव करें। इसके अलावा आप जब भी मेकअप करें अपनी त्‍वचा को अच्‍छी तरह से साफ कर लें। अगर आप त्‍वचा को साफ किए बगैर मेकअप करती हैं तो गंदगी स्किन पोर्स के अंदर ही रह जाती है और मेकअप की लेयर पोर्स को बंद कर देती है। इस से संक्रमण का खतरा रहता है।

 

कंसीलर का अत्‍यधिक इस्‍तेमाल न करें

कंसीलर का इस्तेमाल अक्‍सर काले धब्बों को छिपाने के लिए किया जाता है। मगर कुछ महिलाएं इसे पूरे चेहरे पर लगा लेती हैं। ऐसा करने से चेहरे की झाइयां उजागर होने लगती है। कंसीलर थिक होता है और जरा सा लगाने पर ही असर दिखा देता है। ज्यादा लगाने पर यह चेहरे पर लकीरें बना देता है। विशेषज्ञ मानते हैं कि काले घेरों को छिपाने के लिए कंसीलर नही लगाना चाहिए। आंखों के नीचे कंसीलर हमेशा इनर कॉर्नर पर ही लगाना चाहिए। ज्यादा कंसीलर लगाने पर आंखें अलग से चमकती दिखाई देती हैं, जिस से पता लग जाता है कि आंखों पर कंसीलर लगाया गया है।

 

ज्यादा फाउंडेशन से बचें

सबसे पहले तो फाउंडेशन का चुनाव अपनी स्किन के हिसाब से करना चाहिए। जैसे कि साधारण त्वचा के लिए मिनरल बेस्ड या फिर मॉश्‍चराइजर युक्त फाउंडेशन का इस्तेमाल कर सकती हैं, वहीं रूखी त्वचा के लिए हाइड्रेटिंग फाउंडेशन सही रहेगा। फाउंडेशन सेम स्किन टोन का ही लेना चाहिए। इसके अलावा इस बात का भी ध्‍यान रखना चाहिए कि फाउंडेशन को अत्‍‍यधिक न लगाएं। थोड़े से फाउंडेशन को उंगली में ले कर डैब करते हुए अच्छी तरह चेहरे पर लगाएं।

कॉम्‍पैक्‍ट पाउडर का प्रयोग

अक्‍सर महिलाएं फाउंडेशन के बाद कॉम्‍पैक्‍ट पाउडर नहीं लगातीं। जबकि यह मेकअप को फिनिशिंग देता है। हालांकि इसका भी अधिक इस्‍तेमाल नही करना चाहिए। सब से पहले तो स्किन कलर टोन के हिसाब से ही शेड चुनें। अपनी स्किन टाइप का भी ध्यान रखें। ऑयली त्‍वचा के लिए ऑयल कंट्रोल मैट फिनिशिंग वाला कॉम्‍पैक्‍ट पाउडर तो ड्राई स्किन के लिए क्रीमी कॉम्‍पैक्‍ट लें।

आई एंड लि‍पस्टिक मे‍कअप

आई मेकअप हमेशा अच्छी तरह करना चाहिए। अधिकतर महिलाओं को भ्रम होता है कि आंखों पर डार्क मेकअप करने से जवां लुक आ जाता है मगर एक्‍सपर्ट इसे मिथ्‍या मानते हैं। एशियन स्किन कलर टोन पर अर्थी कलर नैचुरल लगते हैं। कम उम्र दिखाने में कॉपर, ब्राउन और रस्ट कलर सब से अधिक कारगर हैं। आईशेड्स में इन रंगों का ही इस्तेमाल करना चाहिए। वहीं आंखों का मेकअप काजल और मसकारे के बिना अधूरा है। वहीं अगर लिपस्टिक की बात करें तो डार्क शेड होंठों को बड़ा दिखाते हैं। अपनी उम्र से कम दिखना है तो न्यूड और ग्लौसी लिपस्टिक का चुनाव करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *